नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कहते हैं क्रिकेट एक ऐसा खेल है जो लंबे समय तक पुरानी परफॉर्मेंस के आधार पर टीम में जगह नहीं दिलवा सकता। अंदेशा है कि इस बार चेन्नई ने सुरेश रैना के साथ ऑक्शन में जो बर्ताव किया, आने वाले समय में वही बर्ताव अन्य खिलाड़ियों के साथ भी दोहराया जा सकता है।

दिनेश कार्तिक आरसीबी से खेलेंगे। इन्हें 5.50 करोड़ में खरीदा गया।

दिनेश कार्तिक आरसीबी से खेलेंगे। इन्हें 5.50 करोड़ में खरीदा गया।

दिनेश कार्तिक का नाम इस सूची में सबसे ऊपर आता है, जिनका करियर संकट में है। पिछले साल उन्होंने 10 मुकाबलों में 29.80 के साधारण औसत से बगैर किसी अर्धशतक के केवल 149 रन बनाए। 2020 में तो 14 मैच खेलकर 14.08 के एवरेज से उनके बल्ले से सिर्फ 169 रन निकले थे। 2018 के बाद से उनका प्रदर्शन लगातार गिरता गया है। ऐसे में यदि इस साल भी वह अपनी नई टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं तो अगले वर्ष किसी टीम में उनकी जगह बन पाना लगभग नामुमकिन होगा।

ऋद्धिमान साहा को इस बार आईपीएल में गुजरात टाइटंस ने 1.90 करोड़ में खरीदा है।

ऋद्धिमान साहा को इस बार आईपीएल में गुजरात टाइटंस ने 1.90 करोड़ में खरीदा है।

साहा ने 2021 में लीग में सिर्फ 131 बनाए थे

इस सूची में अगला नाम आता है ऋद्धिमान साहा का। फिलहाल विवादों में घिरे और इंडियन टीम से बाहर किए गए साहा ने पिछले साल आईपीएल के 9 मुकाबलों में 14.55 के खराब औसत से केवल 131 रन बनाए। 2020 में वे 4 आईपीएल मुकाबले ही खेल सके थे। इस बार यदि वह अपने प्रदर्शन से गुजरात टाइटंस को जीत नहीं दिला पाते हैं तो उनके अंतरराष्ट्रीय करियर के साथ-साथ आईपीएल करियर पर भी पूर्ण विराम लगने की पूरी आशंका है।

वरुण एरॉन पिछली बार एक भी मैच नहीं खेल सके थे

वरुण एरॉन को एक वक्त पर अपनी गति के लिए बहुत हाइली रेट किया जाता था। फिर अचानक उनके करियर का ग्राफ नीचे जाने लगा। 2021 आईपीएल में तो उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला, लेकिन 2020 में खेले 3 मुकाबलों में उन्होंने 11.75 की औसत से 94 रन लुटाए थे। अगर 2022 में गुजरात टाइटंस के लिए वह अच्छा नहीं कर सके तो करियर पर फुल स्टॉप लगना तय है।

अजिंक्य रहाणे को केकेआर ने अपने साथ जोड़ा है। उन्हें एक करोड़ में खरीदा गया।

अजिंक्य रहाणे को केकेआर ने अपने साथ जोड़ा है। उन्हें एक करोड़ में खरीदा गया।

अजिंक्य रहाणे ने पिछली बार बनाए थे सिर्फ 8 रन

खराब फॉर्म के कारण इंडियन टेस्ट टीम से बाहर किए गए अजिंक्य रहाणे के लिए भी इस बार ‘करो या मरो’ के हालात हैं। आईपीएल 2021 में उनके बल्ले से 2 मुकाबले में 8 रन आए थे तो वहीं 2020 के सीजन में 9 मैच खेलकर 14.12 की औसत से उन्होंने कुल 113 रन बनाए थे। इस साल अगर उन्होंने टी-20 फॉर्मेट में तेज गति से खेलते हुए रन नहीं बनाए तो हो सकता है कि हम रहाणे को आखिरी बार दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग में खेलता हुआ देखें।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here