नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। बीसीसीआइ ने इस बार रणजी ट्राफी के मुकाबलों को दो चरणों में कराने का फैसला लिया है। पहले चरण की शुरुआत इसी गुरुवार से होने जा रही है। लंबे समय से स्पाट फिक्सिंग में फंसने की वजह से क्रिकेट से दूर रहने के बाद अब तेज गेंदबाज एस श्रीसंत एक बार फिर से वापसी के लिए तैयार हैं।

श्रीसंत 10 फरवरी से शुरू होने जा रहे पहले मुकाबले से पहले केरल क्रिकेट टीम से जुड़े। टीम को अपना पहला मैच हरियाणा के साथ खेलना है। एलीट ग्रुप बी में रखा गया है जहां बंगाल, विदर्भ, राजस्थान, हरियाणा और त्रिपुरा की टीमों से उसे मैच खेलना है। यह सभी मुकाबले बैंगलोर में खेले जाएंगे। पहले चरण के मुकाबलों की मेजबानी के लिए मुंबई, बैंगलोर, कोलकाता, अहमदाबाद, त्रिवेंद्रम और चेन्नई को चुना गया है।

इस महीने होने वाले आईपीएल आक्शन की फाइनल लिस्ट में जगह बनाने वाले श्रीसंत की फर्स्ट क्लास क्रिकेट में वापसी रणजी ट्राफी में 10 फरवली से होने जा रही है। उनको इस साल दिसंबर में जारी संभावित खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल किया गया था। प्लेइंग इलेवन में उनके चुने जाने की पूरी उम्मीद है।

बीसीसीआई ने श्रीसंत पर स्पाट फिक्सिंग विवाद में नाम आने के बाद प्रतिबंध लगा दिया था। लंबी कानूनी लड़ाई लड़ने के बाद उनको इस आरोप से 2020 में बरी कर दिया गया। रणजी के पहले मुकाबले में टीम के स्टार विकेटकीपर संजू सैमसन नहीं खेलेंगे।

 

Edited By: Viplove Kumar





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here