नई दिल्ली: किसी भी टीम के लिए विकेटकीपर बहुत ही महत्वपूर्ण होता है. एक वही, विकेट के सबसे नजदीक होता है, जो सारे ग्राउंड पर नजर रखता है. विकेटकीपर गेंदबाज को DRS लेने में मदद करता है. भारतीय टीम के लिए ये जिम्मेदारी काफी दिनों तक महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने निभाई थी, लेकिन उनके जैसा ही धाकड़ विकेटकीपर बल्लेबाज टीम इंडिया में आने के लिए तरस रहा है. दूसरी तरफ ऋषभ पंत (Rishabh Pant) तीनों ही फॉर्मेट में टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की कर चुके हैं. ऐसे में इस प्लेयर के पास संन्यास ही एक ऑप्शन बचा है. आइए जानते हैं, इस प्लेयर के बारे में. 

इस खिलाड़ी के पास संन्यास ही आखिरी रास्ता!

टीम इंडिया के धाकड़ विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) काफी दिनों से टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं. वह पिछले दो साल से टीम इंडिया के लिए कोई भी मैच नहीं खेले हैं. वर्ल्ड कप 2019 के बाद से ही सेलेक्टर्स ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया था. उनकी जगह टेस्ट में युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने ले ली है. वहीं, वनडे में कप्तान और टीम मैनेजमेंट ईशान किशन (Ishan Kishan) को मौका दे रही है. दिनेश कार्तिक के बल्ले से रन नहीं निकल रहे थे, उन्हें जितने भी मौके मिले उन्होंने उसे दोनों ही हाथों से गवांया. ऐसे में उनकी टीम इंडिया (Team India) में वापसी मुश्किल भरी नजर आ रही है. 

फॉर्म बनी बड़ी समस्या 

दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) कभी भी टीम इंडिया (Team India) के लिए कोई बड़ी पारी नहीं खेल पाए, यहां तक कि टी20 क्रिकेट में उनके नाम पर एक भी हाफ सेंचुरी तक नहीं है. अब वह 36 साल के हो चुके हैं, ऐसी उम्र में आकर कई क्रिकेटर्स रिटायरमेंट ले लेते हैं. उनकी उम्र का असर उनके फॉर्म पर भी दिख रहा है.  कार्तिक की  विकेटकीपिंग स्किल (Wicketkeeping) भी उनकी लाजबाव नहीं रही है, मैदान पर वह अब फुर्ती नहीं दिखा पाते हैं. ऐसे में टीम इंडिया में उनकी वापसी के सारे रास्ते बंद हो चुके हैं. 

भारत के लिए खेले तीनों ही फॉर्मेट 

दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने भारत के लिए तीनों ही फॉर्मेट में क्रिकेट खेली. न्होंने टीम इंडिया के लिए अपना डेब्यू 2004 में कियाा था, लेकिन वह कभी भी टीम इंडिया (Team India) में अपनी स्थाई जगह नहीं बना पाए. उन्होंने भारत के लिए 26 टेस्ट मैच, 94 वनडे मैच और 32 टी20 खेले हैं. तीनों ही फॉर्मेट में मिलाकर उन्होंने तीन हजार से ज्यादा रन बनाए हैं. आईपीएल (IPL) में भी वह कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए. उन्होंने केकेआर (KKR) की कप्तानी बीच में ही छोड़ दी थी, ताकि वह अपनी बल्लेबाजी पर फोकस कर सकें, लेकिन नतीजा ढाक के तीन पात ही रहा. 

पंत ने कर ली है जगह पक्की 

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने पिछले कुछ सालों में अपने बल्ले के दम पर टीम इंडिया में अपना एक अलग ही मुकाम बनाया है. उनके बल्ले की गूंज सारी दुनिया ने सुनी है. वह भारत के लिए फिलहाल तीनों ही फॉर्मेट में नंबर एक विकेटकीपर बल्लेबाज हैं. उन्होंने भारत के लिए कई मैच जिताऊ पारियां खेलीं हैं. उनके एक हाथ से लगाए छक्के को दर्शक बहुत ही ज्यादा पसंद करते हैं. ऐसे में जब तक पंत (Rishabh Pant) टीम इंडिया में शामिल हैं, तब तक दिनेश कार्तिक के लिए भारतीय टीम के दरवाजे के बंद हैं. 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here