Home Trending In Cricket तबाह हुआ टीम इंडिया के इन 3 प्लेयर्स का करियर, रोहित के...

तबाह हुआ टीम इंडिया के इन 3 प्लेयर्स का करियर, रोहित के होते हुए वापसी नामुमकिन

0
15


नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम से खेलने का सपना हर किसी का होता है. भारत ने देश और दुनिया को कुछ बेहतरीन खिलाड़ी दिए है.  टीम इंडिया में लगातार कॉम्पिटिशन बढ़ रहा है,  घरेलू क्रिकेट और आईपीएल में ये युवा शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं, जिससे आने वाले दिनों में कुछ बड़े क्रिकेटर्स का क्रिकेट करियर खत्म हो सकता है. वहीं कप्तान रोहित शर्मा के आने के बाद तो इन प्लेयर्स की वापसी एकदम नामुमकिन है.  

1. अजिंक्य रहाणे 

भारतीय क्रिकेट टीम में अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane ) की गिनती एक बड़े खिलाड़ी के रूप में होती है. इन्होंने टीम इंडिया के सभी फॉर्मेट खेले है. वनडे क्रिकेट में अजिंक्य रहाणे ने 2011 में भारत के लिए डेब्यू किया था और भारत के लिए 90 वनडे मैच खेले हैं. साल 2018 से ही रहाणे टीम इंडिया की वनडे टीम का हिस्सा नहीं है. अब उन्हें टेस्ट स्पेशलिस्ट के तौर पर देखा जाता है. उनकी जगह टीम इंडिया के लिए मिडिल ऑर्डर में उनकी जगह सूर्यकुमार यादव, श्रेयस अय्यर और ईशान किशन जैसे बल्लेबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन कर अपनी जगह पक्की कर ली है. वनडे क्रिकेट में भी रहाणे की अनदेखी की जाती रही है. इसको देखकर लगता है कि शायद ही अब रहाणे कभी वनडे क्रिकेट में खेलते हुए दिखाई दें. 

2. ईशांत शर्मा 

टेस्ट क्रिकेट के नियमित गेंदबाज ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) वनडे क्रिकेट में काफी दिनों से नजर नहीं आए हैं. ईशांत ने अपने वनडे क्रिकेट की शुरुआत 2007 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ की थी. ईशांत अब तक 80 वनडे मैच खेले हैं, जिसमें वो 115 विकेट चटकाने में सफल हुए हैं. ईशांत शर्मा ने 2016 से एक भी वनडे क्रिकेट नहीं खेला है. टीम इंडिया में नए गेंदबाजों की पौध तैयार हो गई है. दीपक चाहर, मोहम्मद सिराज और नवदीप सैनी जैसे खिलाड़ी उनकी जगह ले सकते हैं. ईशांत कभी भी वनडे क्रिकेट में अपनी जगह पक्की नहीं कर सके, जिससे अब उनके लिए इस छोटे फॉर्मेट में जगह बनाना बहुत ही मुश्किल काम है. 

3. मनीष पांडे 

टीम इंडिया के बल्लेबाज मनीष पांडे (Manish Pandey) ने 2015 में टीम इंडिया के लिए वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया था. उन्होंने भारत के लिए 28 वनडे में 555 रन बनाए हैं, जिसमें एक शानदार शतक शामिल है. वह कभी भी टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की नहीं कर सके थे. उनकी खराब बल्लेबाजी के कारण ही मिडिल ऑर्डर पर ज्यादा दबाव आ जाता था. टीम इंडिया के लिए उन्होंने अपना आखिरी वनडे 1 साल पहले खेला था.





Source link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here