टी20 वर्ल्ड कप के पहले दो मैच में टीम इंडिया जिस तरह से पहले पाकिस्तान और फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच हारी है, उसके बाद से ही इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 के दूसरे लेग को लेकर तमाम तरह के सवाल खड़े होने लगे हैं। टी20 वर्ल्ड कप के ठीक पहले आईपीएल 2021 का दूसरा लेग युनाइटेड अरब अमीरात (यूएई) में खेला गया, पहले माना जा रहा था कि आईपीएल इस आईसीसी इवेंट के लिए टीम इंडिया की तैयारियों को बेहतर करेगा, लेकिन अभी तक इसका एकदम पलट असर देखने को मिला है। भारतीय टीम की लगातार दो शर्मनाक हार के बाद टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा है कि आईपीएल ऐसा टूर्नामेंट है, जिसके आगे टी20 वर्ल्ड कप भी फीका लग रहा है।

टी20 वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया को इस खिताब के प्रबल दावेदारों के रूप में देखा जा रहा था, लेकिन अब स्थिति एकदम पलट है। गावस्कर ने कहा, ‘हमारा आईपीएल दुनिया का बेस्ट डोमेस्टिक टूर्नामेंट है। आईपीएल से बड़ा कुछ भी नहीं है। यहां तक कि टी20 वर्ल्ड कप भी आईपीएल के आगे फीका लगता है। लोग शुरू से कहते आए हैं कि टी20 वर्ल्ड कप में आईपीएल या किसी अन्य टी20 लीग जैसी चमक नहीं है।’ गावस्कर ने कहा कि कई बार आपको बाहर के लोगों की बातें सुननी होती हैं, इससे आपके प्रदर्शन में सुधार हो सकता है।

गावस्कर ने कहा, ‘बाहर की दुनिया पूरी तरह से साउंडप्रूफ नहीं होती है। कोई ना कोई कुछ ना कुछ जरूर कहेगा, जो आपको सुनने को मिलेगा। कहा जाता है कि बाहर जो बात हो रही है, उसका हमें फर्क नहीं पड़ता, जो एक तरह से सही बात भी है, जो ठीक भी है, क्योंकि टीम नहीं चाहती है कि आप पर बाहर की बातों का असर पड़े, लेकिन कई बाहर की बातों का असर सही तरह से पड़ता है। हो सकता है बाहर कोई ऐसी बात हो रही हो, जो सही हो।’ भारत को पाकिस्तान के खिलाफ 10 और फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। दोनों मैचों में भारतीय बल्लेबाज संघर्ष करते दिखे और गेंदबाज भी दिशा से भटके नजर आए।

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here