ऑस्ट्रेलिया (Australia) की टीम 24 साल बाद पाकिस्तान (Pakistan) के दौरे पर आ रही है. यहां 4 मार्च से 5 अप्रैल तक दोनों देशों के बीच तीन टेस्ट, तीन वनडे और एक टी-20 मुकाबला खेला जाएगा. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) कंगारू टीम के इस दौरे के लिए बेहद उत्साहित है और इसीलिए अपनी तरफ से वह कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते. यही कारण है कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिए पूरी व्यवस्था को चाक-चौबंद कर लिया गया है.

पाकिस्तान के एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के मुताबिक, ऑस्ट्रेलिया के पाकिस्तान दौरे के दौरान आर्मी और सुरक्षा कर्मियों के कुल चार हजार जवान तैनात रहेंगे. रावलपिंडी क्रिकेट स्टेडियम के बाहर की बिल्डिंग्स पर स्नाइपर्स डटे होंगे. फूड स्ट्रीट, डबल रोड और अल्लामा इकबाल पार्क बंद कर दिए जाएंगे. टीम की यात्रा के दौरान मोबाइल फोन की सेवाएं भी सस्पेंड कर दी जाएगी. मेट्रो बस के रूट भी सीमित कर दिए जाएंगे.

ऑस्ट्रेलिया ने पिछली बार साल 1998 में पाकिस्तान का दौरा किया था. पिछले 24 सालों में वह एक बार भी पाकिस्तान नहीं आई है. इस बार भी दौरे के पहले कई ऐसी रिपोर्ट्स आ चुकी थीं, जिनमें कहा जा रहा था कि ऑस्ट्रेलिया के कई खिलाड़ी पाकिस्तान में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर आशंकित हैं. ऐसे में कहा जा रहा था कि कई ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर पाकिस्तान दौरे से हट सकते हैं. बहरहाल, धीरे-धीरे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की शंका का समाधान हुआ और लगभग सभी प्रमुख खिलाड़ी इस दौरे पर आ रहे हैं. कप्तान पैट कमिंस ने भी पाकिस्तान दौरे पर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर संतुष्टि जाहिर की है.

यह भी पढ़ें..

मुंबई इंडियंस के मैच वानखेड़े स्टेडियम में होने पर अन्य फ्रेंचाइजियों को आपत्ति, यह है कारण

केरल के 16 साल के क्रिकेटर ने बताई अपने अनोखे नाम के पीछे की कहानी, रणजी डेब्यू में रहे थे ‘प्लेयर ऑफ दी मैच’





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here