नई दिल्ली: टीम इंडिया (Team India) का एक क्रिकेटर ऐसा है, जिसने आते ही इंटरनेशनल क्रिकेट (Cricket) में धूम मचा दी थी, लेकिन सेलेक्टर्स ने इस खिलाड़ी को भारतीय टीम (Indian Team) से ऐसे बाहर किया जैसे कोई दूध में से मक्खी को बाहर फेंक देता है. टीम इंडिया के मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा और कोच राहुल द्रविड़ भी इस खिलाड़ी को लगातार नजरअंदाज कर रहे हैं. बाहर बैठे-बैठे इस क्रिकेटर का शानदार करियर बर्बाद हो रहा है.

मलिंगा-बुमराह जैसा खतरनाक है टीम इंडिया का ये बॉलर

टीम इंडिया (Team India) के ‘यॉर्कर मैन’ कहे जाने वाले तेज गेंदबाज टी. नटराजन (T Natarajan) करीब एक साल से टीम इंडिया (Team India) से बाहर हैं.  ये बॉलर श्रीलंका (Sri Lanka) के दिग्गज गेंदबाज लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga) और भारत के स्टार गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) जैसी ही घातक यॉर्कर गेंदें मारता था, जो बल्लेबाजों के लिए काल साबित होती थी. सेलेक्टर्स ने इस खिलाड़ी को दूध में से मक्खी की तरह टीम इंडिया (Team India) से निकाल बाहर फेंका. टी. नटराजन (T Natarajan) आखिरी बार मार्च 2021 में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टी20 और वनडे सीरीज में खेलते नजर आए थे. इस सीरीज के बाद टी. नटराजन (T Natarajan) को सेलेक्टर्स ने पूछा तक नहीं है.

लंबे समय से नहीं मिल रहा मौका 

टी. नटराजन ने भारत के लिए 1 टेस्ट मैच, 4 टी20 इंटरनेशनल मैच और 2 वनडे इंटरनेशनल मैच खेले हैं. टी. नटराजन ने टेस्ट में 3 विकेट, टी20 इंटरनेशनल में 7 विकेट और वनडे इंटरनेशनल में 3 विकेट झटके हैं. इस गेंदबाज को IPL 2020 में शानदार प्रदर्शन के कारण टीम इंडिया के लिए तीनों फॉर्मेट में डेब्यू का मौका मिला था. नटराजन ने अपनी शानदार गेंदबाजी से सभी को प्रभावित किया है. उन्होंने डेथ ओवर में अब तक बेहतरीन गेंदबाजी की है. इसके साथ ही एक के बाद एक यार्कर गेंद से दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों को परेशान किया है. उनकी गेंदबाजी में काफी वैरिएशन देखने को मिला है. ऐसे में उनको अपनी प्रतिभा का जलवा और अधिक दिखाने का बेहतरीन मौका है. जो उनके लिए बेहद चुनौतीपूर्ण भी है.  

‘ड्रीम डेब्यू’ के बाद करियर पर लगा ग्रहण

30 वर्षीय तेज गेंदबाज टी. नटराजन ने साल 2020-2021 के ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर तीनों फॉर्मेट्स में टीम इंडिया के लिए ‘ड्रीम डेब्यू’ किया था. टी. नटराजन सटीक यॉर्कर डालने में माहिर हैं, ऐसे में वह बल्लेबाजों के लिए बड़े खतरनाक साबित होते थे. टी. नटराजन को अब भी टीम इंडिया में वापसी की उम्मीद है, लेकिन सेलेक्टर्स की सोच क्या है, उसे कोई नहीं जानता. बाएं हाथ के यॉर्कर स्पेशलिस्ट टी नटराजन ने अपनी कामयाबी का श्रेय टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी को दिया है. नटराजन का कहना है कि IPL में एक बार धोनी ने उन्हें धीमी गति से बाउंसर और कटर जैसी गेंद डालने की सलाह दी. धोनी ने उन्हें अपनी स्किल निखारने में काफी मदद की.

आईपीएल 2022 की नीलामी में टी नटराजन के भविष्य पर सनराइजर्स हैदराबाद ने एक बार फिर मुहर लगाई है. उन्हें खरीदने के लिए हैदराबाद और लखनऊ सुपर जायंट्स के बीच कड़ी टक्कर हुई. लेकिन, आखिर में उन्हें वापस अपनी टीम में हासिल करने में हैदराबाद टीम कामयाब रही. टी नटराजन पहले भी इस फ्रेंचाइजी का हिस्सा रहे थे. उन्हें 4 करोड़ की कीमत पर हैदराबाद ने हासिल किया है. आईपीएल में भारत के इस तेज गेंदबाज पर एक नजर डालें तो उन्होंने इस टूर्नामेंट में कुल 24 मुकाबले खेले हैं. 24 मैच में गेंदबाजी करते हुए टी नटराजन ने कुल 20 विकेट झटके हैं. इस लीग का 13वां सीजन उनके करियर के लिए काफी शानदार साबित हुआ था. उन्होंने अपनी एक अलग ही छाप छोड़ी थी. इसके बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी उनकी डिमांड देखी गई और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्हें मौका मिला जिसे नटराजन ने भुनाया भी. 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here