Ranji Trophy Round-Up: कर्नाटक ने करुण नायर की शानदार बल्लेबाजी और प्रसिद्ध कृष्णा (10 विकेट) की शानदार गेंदबाजी की मदद से रणजी ट्रॉफी ग्रुप सी के मैच में जम्मू कश्मीर को 117 रन से हराकर 6 अंक हासिल किए।

रणजी ट्रॉफी डेब्यू मैच में ही इतिहास रचने वाले बिहार के सकीबुल गनी (Sakibul Gani) ने 27 फरवरी 2022 को फिर कमाल किया। उन्होंने प्लेट ग्रुप में सिक्किम के खिलाफ मैच की दूसरी पारी में शतक लगाया। वह 103 गेंद में 101 रन बनाकर नाबाद रहे।

उन्होंने अपनी पारी के दौरान 18 चौके लगाए। सकीबुल पहली पारी में सिर्फ 2 रन से शतक से चूक गए थे। बिहार के 22 साल के सकीबुल गनी ने 18 फरवरी 2022 को वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। वह प्रथम श्रेणी मैच के पदार्पण मुकाबले में तिहरा शतक लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बने थे।

सकीबल गनी ने रणजी ट्रॉफी के इस सीजन में अब तक कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए हैं। वह सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। वह सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले बल्लेबाज हैं। वह संयुक्त रूप से 50+ रन की पारियां खेलने वाले बल्लेबाज हैं।

इसके अलावा सबसे ज्यादा औसत, उच्चतम स्कोर, एकमात्र तिहरा शतक, सबसे ज्यादा चौके लगाने का रिकॉर्ड भी उनके नाम पर है। उन्होंने अब तक 3 पारियों में 540 रन बनाए हैं। इसमें उनके दो शतक शामिल हैं।

रणजी ट्राफी ग्रुप एच के मैच में झारखंड के शाहबाज नदीम ने 10 विकेट लेकर दिल्ली को क्वार्टर फाइनल की दौड़ से बाहर कर दिया। शाहबाज के कारण ध्रुव शोरे की शतकीय पारी पर पानी फिर गया। शोरे ने 177 गेंद में 136 रन बनाए। उन्होंने 17 चौके और एक छक्का लगाया।

शाहबाज नदीम ने पहली पारी में 24.2 ओवर में 58 रन और दूसरी पारी में 31 ओवर में 83 रन देकर 5-5 विकेट लिए। शाहबाज के साथी स्पिनर अनुकूल रॉय (20.4 ओवर में 71 रन देकर दो विकेट) ने भी दिल्ली की राह मुश्किल की और झारखंड ने अंतिम ओवर में 15 रन से रोमांचक जीत हासिल की। झारखंड नॉकआउट की दौड़ में बरकरार है। अब वह अंतिम मैच में तमिलनाडु (छह अंक) से भिड़ेगी।

ग्रुप के एक अन्य मैच में तमिलनाडु, छत्तीसगढ़ पर जीत हासिल नहीं कर पाई। उसने पहली पारी नौ विकेट पर 470 रन पर घोषित की थी। छत्तीसगढ़ को 304 रन के स्कोर पर समेटकर फॉलोऑन दिया था, लेकिन आखिरी दिन छत्तीसगढ़ के 172 रन तक आठ ही विकेट चटका पाई। इससे तमिलनाडु को 3 और छत्तीसगढ़ को एक अंक मिला। छत्तीसगढ़ 7 अंक के साथ शीर्ष पर है।

रणजी ट्रॉफी ग्रुप बी के मैच में बंगाल ने हैदराबाद को 72 रन से हराकर लगातार दूसरी जीत हासिल की। बड़ौदा के खिलाफ उलटफेर कर जीत हासिल करने वाली बंगाल की सफलता के नायक फिर बाएं हाथ के हरफनमौला शाहबाज अहमद रहे। उन्होंने दूसरी पारी में 51 रन का अहम योगदान देने के बाद 16 ओवर में 41 रन देकर तीन विकेट लिए।

मैन ऑफ द मैच शाहबाज ने पहली पारी में भी बल्ले से 40 रन का योगदान देने के बाद एक विकेट लिया था। बंगाल की पहली पारी की 242 रन के जवाब में हैदराबाद की टीम 205 पर आउट हो गई थी। बंगाल ने दूसरी पारी में 201 रन बनाए। इसके बाद हैदराबाद को जीत के लिए 239 रन का लक्ष्य मिला, लेकिन उसकी पूरी टीम दो सत्र के अंदर 166 रन (61.2 ओवर) पर आउट हो गई।

रणजी ट्रॉफी ग्रुप एफ के मैच में पंजाब ने हरियाणा को 10 विकेट से हराकर बोनस समेत 7 अंक हासिल किए। हरियाणा ने फॉलोऑन खेलते हुए सुबह दूसरी पारी चार विकेट पर 149 से आगे बढ़ाई, लेकिन उसने 54 रन के अंदर बाकी बचे 6 विकेट गंवा दिए।

इस तरह से उसकी पूरी टीम 203 रन पर आउट हो गई। पंजाब को 42 रन का लक्ष्य मिला और उसने प्रभसिमरन सिंह (नाबाद 25) और कप्तान अभिषेक शर्मा (नाबाद 20) की पारियों से बिना किसी नुकसान के 45 रन बनाकर बड़ी जीत दर्ज की।

अभिषेक ने इससे पहले 4.5 ओवर में 15 रन देकर तीन विकेट लिए, जबकि बलतेज ने 15 ओवर में 17 रन देकर तीन विकेट हासिल किए। सिद्धार्थ कौल ने 75 रन देकर दो विकेट लिए, जिससे हरियाणा लगातार दूसरी पारी में नाकाम रही। उसकी तरफ से निशांत सिंधू ने सर्वाधिक 57 रन बनाए।

पंजाब ने पहली पारी में 444 रन बनाकर हरियाणा को 282 रन पर आउट करके फॉलोऑन के लिए मजबूर किया था। ग्रुप एफ के एक अन्य मैच में हिमाचल प्रदेश ने त्रिपुरा को शनिवार को मैच के तीसरे दिन ही पारी और 30 रन से हराया था।

कर्नाटक ने करुण नायर की शानदार बल्लेबाजी और प्रसिद्ध कृष्णा (10 विकेट) की शानदार गेंदबाजी की मदद से रणजी ट्रॉफी ग्रुप सी के मैच में जम्मू कश्मीर को 117 रन से हराकर 6 अंक हासिल किए। इससे टीम तालिका में नौ अंक लेकर शीर्ष पर पहुंच गई। कर्नाटक ने जम्मू कश्मीर को जीत के लिए 508 रन का लक्ष्य दिया था। उसने अंतिम दिन दूसरी पारी में सुबह 4 विकेट पर 190 रन से आगे खेलना शुरू किया।

कर्नाटक को मैच में जीत के लिए छह विकेट की जरूरत थी। जम्मू कश्मीर के बल्लेबाजों ने ड्रॉ के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया। इसमें उसके लिए कप्तान इयान देव सिंह ने रात की अर्धशतकीय पारी को 110 रन में तब्दील किया। अब्दुल समद ने 21 रन को 70 रन की पारी तक पहुंचाया। आबिद मुश्ताक ने भी 43 रन का योगदान दिया, लेकिन कर्नाटक के गेंदबाजों ने पूरी टीम को 390 रन पर आउट कर दिया।

कर्नाटक के गेंदबाजों में प्रसिद्ध कृष्णा और श्रेयस गोपाल के 4-4 विकेट झटके, जबकि कृष्णप्पा गौतम ने दो विकेट हासिए किए। प्रसिद्ध कृष्णा ने जम्मू कश्मीर को पहली पारी में 93 रन पर समेटने में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया था। तब उन्होंने 6 विकेट झटके थे। उन्होंने मैच में कुल 10 विकेट चटकाए। कर्नाटक के लिए पहली पारी में 175 रन बनाने वाले करुण नायर ने दूसरी पारी में नाबाद 71 रन बनाए।

पिछले मैच में जीत दर्ज करने वाली जम्मू कश्मीर के छह अंक हैं। वह तालिका में दूसरे स्थान पर है। ग्रुप के एक अन्य मैच में रेलवे ने पुडुचेरी के खिलाफ मैच ड्रॉ कराकर तीन अंक हासिल किए। उसके 4 अंक हैं।

रेलवे ने पुडुचेरी के पहली पारी में 342 रन के जवाब में नौ विकेट पर 525 रन पर पारी घोषित कर बढ़त हासिल की थी। पुडुचेरी ने अंतिम दिन पारस डोगरा के नाबाद 64 और पवन देशपांडे के नाबाद 59 रन से दूसरी पारी में तीन विकेट पर 208 रन बनाए।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here