1 of 1





लंदन। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन का मानना है कि कोविड-19 महामारी की स्थिति में टीम की देखभाल करने वाले एशले जाइल्स जैसे अच्छे व्यक्ति की आलोचना करना गलत है। इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने बुधवार को एशेज में 4-0 की हार के बाद इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर जाइल्स को प्रबंध निदेशक के पद से हटा दिया। हुसैन ने स्काई स्पोर्ट्स न्यूज से कहा, “मैं एशले को लेकर निराश हूं, क्योंकि वह एक शीर्ष व्यक्ति है। मैं आपको यह बता सकता हूं। मैंने उनकी कप्तानी की, मैंने उनके साथ काम किया। उन्होंने महामारी में खिलाड़ियों का बेहतर तरीके से देखभाल किया। इसलिए मैं उनकी आलोचना नहीं कर सकता।”

हुसैन ने जाइल्स के अलावा हेड कोच क्रिस सिल्वरवुड के प्रति भी सहानुभूति महसूस की, जहां इंग्लैंड ने पूरी दुनिया में बायो-बबल में खेलने में काफी समय बिताया है।

उन्होंने कहा, “मुझे सिल्वरवुड और जाइल्स दोनों के लिए बहुत सहानुभूति है, क्योंकि महामारी में घर से दूर किसी भी टीम की तुलना में अधिक टेस्ट क्रिकेट खेला है।”

उन्होंने आगे कहा, “उनके खिलाड़ी बायो-बबल में हैं और दुनिया की यात्रा कर रहे हैं। ऐसे में 11 खिलाड़ियों को स्विच करना और अच्छी गुणवत्ता वाली क्रिकेट खेलना अविश्वसनीय रूप से कठिन रहा है। जाइल्स ने अपने खिलाड़ियों की देखभाल करने की कोशिश की है।”

हुसैन ने जाइल्स को बर्खास्त करने का विरोध किया, जो 2018 के अंत में इंग्लैंड के क्रिकेट के प्रबंध निदेशक के रूप में सर एंड्रयू स्ट्रॉस के उत्तराधिकारी बने थे। उन पर विशेष रूप से एशेज 4-0 से हारने के बाद सवाल खड़े हो रहे थे।

हुसैन ने कहा कि जाइल्स ने चयन समिति का पुनर्गठन करके एक गलती की, जहां सिल्वरवुड को मुख्य चयनकर्ता के रूप में भी काम दिया गया, क्योंकि एड स्मिथ को राष्ट्रीय चयनकर्ता के पद से बर्खास्त कर दिया गया था। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें – अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Web Title-Canot be too critical of a good bloke trying to look after his staff: Hussain on Giles



Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here