कराची: पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोहम्मद हफीज (Mohammad Hafeez) ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के प्रमुख की नियुक्ति की प्रक्रिया के अलावा घरेलू क्रिकेट में टीम की संख्या घटाने के फैसले पर सवाल उठाए हैं। जियो समाचार चैनल पर हफीज ने घरेलू क्रिकेट से विभागीय और बैंक टीम को खत्म करने के फैसले की भी आलोचना करते हुए कहा कि इसके कारण कई घरेलू क्रिकेटर बेरोजगार हो गए और उनका कोई भविष्य नहीं है।

पीसीबी ने दो साल पहले प्रधानमंत्री इमरान खान के निर्देश पर विभागीय और बैंक टीम की भूमिका खत्म कर दी थी। इमरान जब स्वयं खेला करते थे तो वह घरेलू क्रिकेट में राष्ट्रीय विमान कंपनी और अन्य विभागों की ओर से काफी क्रिकेट खेले हैं।

हाल में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूप से संन्यास की घोषणा करने वाले हफीज ने पीसीबी अध्यक्ष की चयन प्रक्रिया पर भी सवाल उठाए। हफीज ने कहा कि बोर्ड के अध्यक्ष पद के लिए उचित चुनाव होने चाहिए और वह बोर्ड के मुख्य संरक्षक यानी प्रधानमंत्री द्वारा नामित नहीं होना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘मौजूदा प्रक्रिया सही नहीं है क्योंकि मौजूदा समय में पीसीबी अध्यक्ष का चुनाव चयन प्रणाली के तहत होता है और पीसीबी अध्यक्ष के चयन के लिए यह प्रक्रिया सही नहीं है।’

हफीज ने कहा, ‘पीसीबी अध्यक्ष राजनीतिक आधार पर चुना जाता है और जिस अध्यक्ष का चयन राजनीति रूप से होता है वह क्रिकेट बिलकुल नहीं समझता।’ उन्होंने सुझाव दिया कि क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष को चुनाव प्रक्रिया के जरिए चुना जाना चाहिए। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रमीज राजा पीसीबी के मौजूदा अध्यक्ष हैं। हफीज ने पाकिस्तान की ओर से 55 टेस्ट, 218 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय और 119 टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेले हैं।

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here