आईपीएल 2021 के 54वें मैच में राजस्थान रॉयल्स की टीम को कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों 86 रनों के बड़े अंतर से हार का सामना करना पड़ा। केकेआर के गेंदबाजों के आगे राजसथान के बैट्समैनों की एक नहीं चली और पूरी टीम महज 85 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। टीम की ओर से राहुल तेवतिया ने सबसे अधिक 44 रनों का योगदान दिया। राजस्थान के आठ बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा तक नहीं पार कर सके। बल्लेबाजों के निराशाजनक प्रदर्शन के चलते राजस्थान की टीम ने आईपीएल इतिहास का एक शर्मनाक रिकॉर्ड भी ना चाहते हुए भी अपने नाम कर लिया है। 

 

दरअसल, राजस्थान रॉयल्स आईपीएल के इतिहास में सबसे कम रनों पर अपने सात विकेट गंवाने वाली पहली टीम बन गई है। केकेआर के खिलाफ 172 रनों के टारगेट का पीछा करते हुए संजू सैमसन की टीम ने महज 35 रनों पर अपने पहले सात विकेट खोकर इस अनचाहे रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया। कोलकाता के गेंदबाजों के आगे राजस्थान की तरफ से राहुल तेवतिया को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज टिककर नहीं खेल सका और टीम ने लगातार अंतराल पर विकेट गंवाए। केकेआर ने राजस्थान को हराकर प्लेऑफ में अपनी जगह लगभग पक्की कर ली है। 

CSK vs PBKS: दीपक चाहर ने मैच के बाद किया अपनी गर्लफ्रेंड को प्रपोज, देखिए दिल छू लेने वाला वीडियो

कोलकाता की तरफ  से शिवम मावी ने गेंद से कहर बरपाया और महज 21 रन देकर चार विकेट अपने नाम किए। शिवम के अलावा लॉकी फर्ग्यूसन ने भी चार ओेवर में महज 18 रन खर्च करके तीन बड़े विकेट अपने नाम किए। इससे पहले टॉस केकेआर की टीम ने शुभमन गिल की 56 और वेंकटेश अय्यर की 38 रनों की पारी की बदौलत 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 171 रन बनाए। गेंदबाजी में राजस्थान की ओर से चेतन सकारिया ने अपने चार ओवर में 23 रन देकर एक विकेट अपने नाम किया। 
 



Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here