Indian Premier League 2019 final MI vs CSK:  इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2019) का फाइनल मुकाबला काफी रोमांचक रहा। आखिरी ओवर में मुंबई इंडियंस ने एक रन से चेन्नई सुपर किंग्स को हराकर चौथी बार आईपीएल खिताब पर अपना कब्जा जमाया। इस मैच में सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी का रन आउट टर्निंग प्वाइंट रहा। धौनी का रनआउट होना भी चेन्नई की हार का एक कारण बना। टीम को मुश्किल वक्त से अक्सर बाहर निकालने वाले धौनी रनआउट हुए। हालांकि, धौनी का यह रन आउट काफी विवादित भी रहा। 

हार्दिक पांड्या के 13वें ओवर की एक गेंद पर शेन वॉटसन ने लेग साइड पर शॉट खेला। उन्होंने एक रन पूरा किया, लेकिन वह दूसरा रन भी लेना चाहते थे। ईशान किशन ने सीधा थ्रो फेंककर गिल्लियां उड़ा दीं और धौनी को रन आउट करार दिया गया। हालांकि, तीसरे अंपायर को यह फैसला देने में काफी वक्त लगा। धौनी का बल्ला क्रीज में था या नहीं यह तय करने में काफी वक्त लग गया। 

VIDEO: धौनी के रनआउट पर जमकर हुआ बवाल, रणवीर सिंह ने भी किया कमेंट

तीसरे अंपायर ने फैसला किया कि इसका लाभ बल्लेबाज को नहीं दिया जा सकता और इस तरह धौनी रन आउट हो गए। यही मैच का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ। शेन वॉटसन ने 80 रन की पारी खेली, लेकिन वह चेन्नई को जीत नहीं दिला सके।

धौनी के इस तरह रनआउट होने पर टीम के ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने भी अपनी राय दी है। धौनी के रन आउट होने पर सब चौंक गए थे, लेकिन हरभजन ने कहा, ‘यह काफी मुश्किल था। हमें लग रहा था कि निर्णय धौनी के पक्ष में जाएगा। मेरे ख्याल से यह मैच का टर्निंग प्वाइंट था। इसके अलवा मुझे लगता है कि हमने अच्छा साझेदारियां नहीं की। लेकिन वॉटसन ने चमत्कारी ढंग से हमें जीत के इतना करीब पहुंच दिया था।’

हरभजन सिंह ने कहा कि उन्हें अब तक इस बात का यकीन नहीं हो रहा कि चेन्नई जीत के लिए 150 रन नहीं बना पाई। उन्होंने कहा, ‘जहां तक फैन्स का नजरिया है, यह पैसा वसूल मैच था। लेकिन हमारे लिए यह दिल तोड़ने वाला मैच रहा।’

उन्होंने कहा, ‘हमारी शुरुआत अच्छी रही, लेकिन नियमित अंतराल पर विकेट गिरती रही और हमारे ऊपर दबाव बढ़ता गया। मैं अब भी यही सोच रहा हूं कि हम मैच कैसे हार गए। लेकिन सच यही है। मुंबई विजेता है।’

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here