Indian Premier League 2019 final MI vs CSK: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2019) का फाइनल मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपर किंग्स को एक रन से हराकर जीता। मुंबई इंडियंस का यह चौथा आईपीएल खिताब है। हैदराबाद में खेले गए इस फाइनल मैच से पहले मुंबई इंडियंस ने युवराज सिंह की तस्वीर शेयर की थी। इस तस्वीर में युवराज सिंह पैड पहने हुए थे। इस तस्वीर को देखकर फैन्स अंदाजा लगा रहे थे कि शायद फाइनल में युवराज सिंह को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। वहीं, चेन्नई सुपर किंग्स ने खराब परफॉर्मेंस के बावजूद शेन वॉटसन को लगातार अपनी प्लेइंग इलेवन में बनाए रखा। ऐसे में बॉलीवुड एक्टर और कॉमेडियन सुरेश मेनन ने युवराज सिंह को लेकर एक ट्वीट किया है।

फाइनल मैच में चेन्नई के ओपनर शेन वॉटसन ने शानदार 80 रनों की पारी खेली। जब एक वक्त पर शुरुआत में ही सीएसके के शुरुआती विकेट गिर गए थे, तब शेन वॉटसन ने ही पारी को संभाला था। ऐसे में सुरेश मेनन ने महेंद्र सिंह धौनी की तारीफ करते हुए मुंबई इंडियंस से एक शिकायत की थी। 

VIDEO: खून बहता रहा फिर भी बल्लेबाजी करते रहे वॉटसन, अब दुनिया कर रही सलाम

सुरेश मेनन ने शेन वॉटसन की तारीफ करते हुए ट्वीट किया- देखिए, किस तरह अनुभव एक अहम मैच के लिए जरुरी होता है। इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि महेंद्र सिंह धौनी क्यों शेन वॉटसन का समर्थन करते हैं। और हमने युवराज सिंह को बर्बाद कर दिया। 

फैन्स ने भी सुरेश मेनन के इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

युवराज सिंह को इस सीजन में मुंबई इंडियंस ने बेस प्राइस में खरीदा था। हालांकि, युवी को ज्यादा मैच खेलने का मौका नहीं मिला। युवी ने इस सीजन में चार मैच खेले, इस दौरान उन्होंने 24.50 की औसत और 130.66 के स्ट्राइक रेट से 98 रन बनाए। 53 उनका बेस्ट स्कोर रहा। युवी ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 53, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ 23, किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 18 और चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 4 रनों की पारी खेली थी। 3 अप्रैल के बाद से उन्होंने मुंबई इंडियंस की ओर से कोई मैच नहीं खेला।

IPL 2019 Final, MIvsCSK: बुमराह की गेंद पर डिकॉक से हुई ये बड़ी गलती, फिर पेसर ने किया कुछ ऐसा

बता दें कि इससे पहले शेन वॉटसन ने भी महेंद्र सिंह धौनी और अपनी फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स की जमकर तारीफ की थी। उन्होंने कहा था,  ‘मैं स्टीफन फ्लेमिंग और महेंद्र सिंह धौनी का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझ पर भरोसा रखा। अगर मैं इस तरह से इतने मैचों में रन नहीं बना पाता तो पिछली टीम में काफी पहले बाहर कर दिया गया होता।’ उन्होंने कहा, ‘स्टीफन फ्लेमिंग और धौनी ने मुझ पर भरोसा रखा जो अद्भुत था। मैं पीएसएल से यहां आया हूं और फिर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका। मैंने लय खो दी थी।’



Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here