Home Cricket अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट किसी को तैयार करने के लिए नहीं

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट किसी को तैयार करने के लिए नहीं

0
32

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने सुझाव दिया है कि भारत को एक तेजतर्रार ऑलराउंडर की तलाश से आगे बढ़ना होगा और खिलाड़ियों को अतर्राष्ट्रीय स्तर के बजाय घरेलू क्रिकेट में तैयार करना होगा। हार्दिक पांड्या पिछले तीन सालों से चोटों से जूझ रहे हैं। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने सीमित ओवरों और टेस्ट प्रारूप में ऑलराउंडर की स्थिति में कई खिलाड़ियों को आजमाया है।

इस पर गंभीर ने स्पोर्ट्स टुडे से कहा, अगर आपके पास कुछ नहीं है, तो उसके लिए मत जाइए। आपको स्वीकार करना होगा और आगे बढ़ना होगा और खिलाड़ियों को अतर्राष्ट्रीय स्तर के बजाय घरेलू क्रिकेट में तैयार करना होगा।

उन्होंने कहा, मैंने हमेशा माना है कि अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट किसी को तैयार करने के बारे में नहीं है। घरेलू और भारत ए स्तर पर खिलाड़ियों को तैयार करना चाहिए। जब आप अपने देश का प्रतिनिधित्व करते हैं, तो आपको वहां जाने और सीधे प्रदर्शन करने के लिए तैयार रहना चाहिए।

इस महीने की शुरुआत में वेंकटेश अय्यर को साउथ अफ्रीका में तीन मैचों की वनडे सीरीज में बतौर ऑलराउंडर मौका दिया गया था। हालांकि, उन्हें पहले मैच में गेंदबाजी करने का मौका नहीं मिला और फिर उन्हें तीसरे मैच के लिए बाहर कर दिया गया।

उन्हें 6 फरवरी से वेस्टइंडीज की मेजबानी करने वाली वनडे टीम से आराम दिया गया है, जिसे लेकर कई लोगों ने सवाल उठाए हैं। गंभीर ने कहा कि एक बार किसी खिलाड़ी का चयन हो जाने के बाद उसे ज्यादा से ज्यादा मौके देने होते हैं।

आईएएनएस

Source by [author_name]

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here