बेंगलुरु:  
यहां एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में रविवार को दूसरे और अंतिम डे-नाइट टेस्ट में भारत ने डिनर तक अपनी दूसरी पारी में पांच विकेट के नुकसान पर 199 रन बना लिए हैं। इसी के साथ श्रीलंका के खिलाफ भारतीय टीम ने 342 रनों की बढ़त बना ली है। क्रीज पर श्रेयस अय्यर (18) और रवींद्र जडेजा (10) मौजूद हैं।

चाय ब्रेक से 61/1 आगे खेलते हुए कप्तान रोहित शर्मा और हनुमा विहारी ने असमतल उछाल वाली पिच पर संभल कर बल्लेबाजी की और दोनों ने कुछ शानदार शॉट खेले। दोनों बल्लेबाजों के बीच 119 गेंदों में 56 रनों की साझेदारी हुई, लेकिन 98 के स्कोर पर भारत को दूसरा झटका लगा, जब रोहित ने चार चौके 79 गेंदों में 46 रन बनाकर धनंजय डी सिल्वा की गेंद पर एंजेलो मैथ्यूज को कैच थमा बैठे।

इसके बाद, हनुमा भी चार चौके की मदद से 79 गेंदों में 35 रन बनाकर जयविक्रमा की गेंद पर बोल्ड हो गए। जल्द ही जयविक्रमा ने विराट कोहली (13) को अपना शिकार बना लिया, जिसके बाद भारत का स्कोर चार विकेट नुकसान पर 139 जोड़े। पांचवें और छठे नंबर पर आए ऋषभ पंत और श्रेयस अय्यर ने शानदार बल्लेबाजी की।

इस दौरान पंत कुछ बड़े-बड़े शॉट लगाए, जिससे वह 28 गेंदों में सबसे तेज अर्धशतक बनाने वाले भारतीय क्रिकेटर बन गए। उन्होंने 40 साल पुराने महान कपिल देव के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। इस बीच, श्रेयस भी दूसरे छोर पर महत्वपूर्ण बनाए। दोनों के बीच 38 गेंदों में 45 रनों की साझेदारी होने के बाद पंत सात चौके और दो छक्कों की मदद से 31 गेदों में 50 रन बनाकर जयविक्रमा की गेंद पर आउट होकर पवेलियन लौट गए।

इसके बाद, सातवें नंबर पर आए रवींद्र जडेजा (10) और श्रेयस (18) डिनर तक टिके रहे, जिसे इस समय तक भारत का स्कोर 42 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 199 रन बन चुके थे। श्रीलंका के खिलाफ भारत ने 342 रनों की बढ़त बना ली है। वहीं, प्रवीण जयविक्रमा ने तीन विकेट चटकाए, जबकि धनंजया डी सिल्वा और लसिथ एम्बुलडेनिया ने एक-एक विकेट लिया।

इससे पहले, पहले सत्र में आधे घंटे के खेल के भीतर श्रीलंका की पहली पारी समाप्त करने के बाद, भारत को अच्छी शुरुआत मिली, क्योंकि रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल ने दूसरी पारी में तेज गति से रन बनाए।

दोनों भारतीय सलामी बल्लेबाजों ने कुछ खूबसूरत शॉट खेले। विशेष रूप से, मयंक आक्रामक रूप से बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्होंने अपनी पारी के दौरान पांच चौके लगाए।

लेकिन 22 रन पर एम्बुलडेनिया के शिकार होने से पहले, मयंक ने रोहित के साथ 42 रनों की साझेदारी की। हालांकि, हनुमा विहारी, जो नंबर 3 पर बल्लेबाजी करने आए और रोहित ने रनों पर ढेर करना जारी रखा और सुनिश्चित किया कि मेजबान टीम के और विकेट न गिरे। उन्होंने चाय पर 204 रनों की बढ़त बढ़ा दी और भारत की स्थिति मजबूत हो गई।

दूसरे दिन 86/6 आगे शुरू करते हुए श्रीलंका केवल 23 रन और जोड़ सका क्योंकि जसप्रीत बुमराह ने ऐतिहासिक पांच विकेट (5/24) लिए, और भारत ने अपनी पहली पारी में 109 रन पर मेहमान टीम को समेट दिया। यह भारत के खिलाफ टेस्ट में श्रीलंका का दूसरा सबसे कम स्कोर (109) था, जिसमें 1990 में चंडीगढ़ में 82 रन बनाए थे।

मेहमान टीम के लिए एंजेलो मैथ्यूज (43) और निरोशन डिकवेला (21) शीर्ष स्कोरर रहे। दूसरी ओर, बुमराह के अलावा, रविचंद्रन अश्विन (2/30), मोहम्मद शमी (2/18) और अक्षर पटेल (1/21) भारत के लिए अन्य विकेट लेने वाले गेंदबाज थे।

इससे पहले, शुरुआती दिन श्रेयस अय्यर ने 92 रनों की शानदार पारी खेली और मेजबान टीम को 252 रनों पर पहुंचा दिया।

संक्षिप्त स्कोर :

भारत 252 और 47 ओवर में 199/5 (ऋषभ पंत 50, रोहित शर्मा 46, प्रवीण जयविक्रमा 3/50 लसिथ एम्बुलडेनिया 1/55) श्रीलंका 35.5 ओवर में 109/10 (एंजेलो मैथ्यूज 43, जसप्रीत बुमराह 5/24, रविचंद्रन अश्विन 2/30)।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.



Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here