Image Source : TWITTER/BCCI
बांग्लादेश के खिलाफ मैच के दौरान भारतीय बल्लेबाज

Highlights

  • भारतीय टीम आईसीसी अंडर-19 विश्व कप 2022 के सेमीफाइनल में पहुंची
  • क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारत ने बांग्लादेश को 5 विकेट से हरा दिया
  • सेमीफाइनल में भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया से होगा

भारतीय टीम आईसीसी अंडर-19 विश्व कप 2022 के सेमीफाइनल में पहुंच गई है। वेस्टइंडीज के कूलीज में खेले गए क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारत ने बांग्लादेश को 5 विकेट से हरा दिया। इसके साथ भारत ने 2020 विश्व कप के फाइनल में मिली हार का बदला भी चुकता कर लिया। सेमीफाइनल में भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया से होगा। बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए महज 111 रन बनाए। 112 रनों के आसान लक्ष्य को भारत ने 5 विकेट खोकर हासिल कर लिया। रवि कुमार को बेहतरीन गेंदबाजी के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया।

इससे पहले टॉस जीतकर भारत ने बांग्लादेश को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। पिछली बार की विजेता टीम की शुरुआत बेहद खराब रही है और टीम ने महज 12 रनों के स्कोर पर अपने दोनों ओपनर का विकेट गंवा दिया। इसके बाद 14 रन के स्कोर पर टीम ने अपना तीसरा विकेट भी खो दिया. तीनों ही विकेट तेज गेंदबाज रवि के खाते में गए। इसके बाद विक्की ओस्टवाल ने बांग्लादेश के बल्लेबाजों के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी। विक्की ने एक के बाद एक दो विकेट हासिल किए जिससे बांग्लादेश की आधी टीम महज 37 रन तक पवेलियन जा चुकी थी। 56 रन के स्कोर पर बांग्लादेश के 7 खिलाड़ी पवेलियन लौट चुके थे और टीम 100 के अंदर सिमटती दिख रही थी। हालांकि आठवें विकेट के लिए मेहरोब और आशिकुर ने 50 रनों की साझेदारी कर टीम का स्कोर 100 के पार पहुंचा दिया। इन दोनों के आउट होने के साथ ही बांग्लादेश की पारी महज 37.5 ओवरों में महज 111 रनों पर सिमट गई। भारत की तरफ से रवि ने 3 और विक्की ने दो विकेट हासिल किए।

112 रनों के आसान लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत की शुरुआत भी बेहद खराब रही. पारी के दूसरे ओवर में ही टीम को ओपनर हरनूर सिंह के तौर पर बड़ा झटका लगा। हरनूर तंजीम हसन की गेंद पर बिना खाता खोले आउट हो गए। इसके बाद अंगकृष रघुवंशी और उप-कप्तान शेख रशीद ने दूसरे विकेट के लिए 70 रनों की बड़ी साझेदारी की। अंगकृष रघुवंशी 44 और उप-कप्तान शेख रशीद 26 रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद बांग्लादेश ने वापसी की कोशिश की और टीम ने 4 ओवरों के अंदर भारत के 3 विकेट हासिल कर लिए लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। 97 रन के स्कोर पर 5 विकेट खोने के बाद कप्तान यश धूल ने कौशल के साथ मिलकर संभलकर खेलते हुए टीम को सेमीफाइनल का टिकट दिला दिया।




Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here