महेंद्र सिंह धौनी ने रॉयल चैलेंजर बेंगलोर के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग मैच के 19वें ओवर में दूसरे छोर पर ड्वेन ब्रावो जैसे बड़े शॉट खेलने वाले बल्लेबाज की मौजूदगी के बाद भी तीन बार एक रन लेने से मना किया, लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा कि वो अंतिम ओवरों में अपने कप्तान की रणनीति पर सवाल नहीं उठा सकते।

चेन्नई सुपर किंग्स को अंतिम दो ओवरों में जीत के लिए 36 रन चाहिए थे लेकिन नवदीप सैनी के 19 ओवर में धौनी ने तीन बार एक रन के लिए दौड़ने से मना कर दिया। इस ओवर में सिर्फ 10 रन बने जिसमें नोबॉल पर छक्का शामिल था। आखिरी ओवर में टीम को 26 रन चाहिए थे और धौनी ने उमेश यादव की पहली पांच गेंद पर 24 रन बना लिए लेकिन अंतिम गेंद पर शार्दुल ठाकुर रन आउट हो गए जिससे आरसीबी ने इस मैच को एक रन से जीत लिया।

RCBvCSK: हार के बाद ऐसे निकला धौनी का गुस्सा, इन्हें ठहराया जिम्मेदार

RCB vs CSK: धौनी की ‘डबल सेंचुरी’, गेल और डिविलियर्स से फिर भी रह गए पीछे

फ्लेमिंग ने कहा, ‘धौनी चीजों का आकलन इतने सटीक तरीके से करते है कि अंतिम के ओवरों में आप उनकी रणनीति पर सवाल नहीं उठा सकते। हां, ब्रावो के पास भी बड़े शॉट खेलने की क्षमता है लेकिन धौनी को लगा कि वो इस तरह से मैच जिता देंगे। मै हर समय उनका समर्थन करूंगा।’ उन्होंने कहा, ‘उन्होंने इससे पहले भी ऐसा (सफलता पूर्वक लक्ष्य का पीछा) कई बार किया है, इस मैच में भी वो हमें जीत के इतने करीब ले गए इसलिए मैं उनके फैसले पर कभी सवाल नहीं करूंगा।’



Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here