नई दिल्ली: 2003 के क्रिकेट वर्ल्ड कप (ICC world cup 2003) में भारतीय टीम फाइनल तक पहुंची थी, लेकिन खिताब नहीं जीत पाई। सितारों से सजी सौरव गांगुली की बेहतरीन टीम के अलावा यह विश्व कप मंदिरा बेदी (Mandira Bedi) के लिए भी याद किया जाता है, जिन्होंने ऑफिशियल ब्रॉडकास्टर सोनी मैक्स के खास प्रोग्राम एक्स्ट्रा इनिंग्स की एंकरिंग की थी।

मंदिरा बेदी ने तब खेल में ग्लैमर का तड़का लगाया था, जिसे खूब पसंद किया जाता था। मगर अब 19 साल बाद उन्होंने अपने कुछ खट्टे-मीठे अनुभव शेयर किए हैं। मंदिरा बेदी की माने तो क्रिकेटर्स उन्हें देखते रह जाते थे। जब वह सवाल पूछती तो उन्हें घूरा जाता। 2003 वर्ल्ड कप के अलावा उन्होंने 2007 के विश्व कप में भी एंकरिंग की। 2004, 2006 का चैंपियंस ट्रॉफी भी मंदिरा के ग्लैमर से सजा। IPL के दूसरे सीजन में भी फैंस ने उन्हें सराहा।

हाल ही में एक इंटरव्यू में मंदिरा ने बताया, ‘मुझे बहुत से क्रिकेटर्स घूरा करते थे। सोचते मानो, ‘वह क्या पूछ रही है, क्यों पूछ रही है। खिलाड़ी जो भी जवाब देते वह मेरे सवाल से जुड़ा हुआ ही नहीं होता था। यह अनुभव मेरे लिए काफी डरावना था।’ मेरा आत्मविश्वास डगमगा चुका था, लेकिन ब्रॉडकास्टर्स ने मुझे हिम्मत बंधाई और कहा कि आपको 150-200 महिलाओं में से चुना गया है। आप बेस्ट हैं। खुद पर भरोसा रखिए।’

दूरदर्शन में प्रसारित होने वाले धारावाहिक ‘शांति’ से मशहूर हुईं मंदिरा की माने तो खिलाड़ी और साथी पैनलिस्ट शायद एक महिला को बतौर स्पोर्ट्स एंकर स्वीकार नहीं कर पा रहे थे। उन्हें यह पसंद नहीं था कि एक महिला साड़ी पहनकर क्रिकेट पर बात कर रही है। मंदिरा बेदी के पति राज कौशल की पिछले साल हार्ट अटैक से मौत हो गई थी। वह 49 साल के थे। राज से 1999 में उनकी शादी हुई थी। 2011 में बेटे वीर को जन्म दिया और साल 2020 में चार साल की बेटी तारा को गोद लिया।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here